छठ पूजा हम क्यों और कैसे मनाते है। - Amar Ujalas

छठ पूजा हम क्यों और कैसे मनाते है।

(chath-pooja-baaren-mein)छठ पूजा कार्तिक मास में मनाया जाने वाला सबसे बड़ा महा पर्व है। छठ के पूजा हम बिहार वासी काफी धूमधाम से मनाते हैं ,हम लोग छठ के पूजा की तयारी कुछ दिन पहले से करना शुरू कर देते हैं। हम लोग छठ के इस महा पर्व पर बहुत विश्वास के साथ करते है , छठ पूजा के पहले खरना होती है। जिसमें हम छठी माई को नावेद देते है। और उनको हमलोग दिल से प्रणाम करते है। और चढ़ा हुआ प्रसाद हम लोग उसी दिन खा लेते है। छठ पूरा दुनिया में सबसे बड़ा पर्व माना जाता है। और इनको लोग दूसरे देश में भी पूजते है।

नरेंद्र मोदी जी की जीवनी। Narendra Modi Ji ki Jivani.

छठ के इस महापर्व में जो लोग घर से बाहर रहतें है। वो लोग भी छुट्टी पर घर आतें है। और इस पर्व को करते है। इस महापर्व में लोग उगतें और डूबते सूर्य को पूजते हैं। जो की इस पूजा की सबसे ख़ास बात होती है। और सूर्य देवता आकर हमलोगो को आशीर्वाद देते हैं।

इस पर्व में औरतें एक दिन पहले सहती हैं। और उसके बाद वो ३६ घंटा तक सहती है। और उगती हुई और डूबती हुई सूर्य को यहाँ उत्तरी बिहार और झारखण्ड में पूजा जाता है। ये पूजा सदियों से चलती आ रही है। और हम लोग आज भी उस विद्धि से पूजा को करते आ रहे है।

(chath-pooja-baaren-mein)जैसा की हमलोग जानते है। की इस पर्व को लोग बहुत ही खुसियो के साथ मनातें हैं। इस महापर्व में लोग पटाखें भी जला ते हैं। यह पर्व दो दिनों का होता है। जिसमें लोग भर दिन प्रसाद तैयार करता है ,और फिर शाम को वही प्रसाद को लेकर छठ घाट पर जातें है। और डूबते सूर्य को पहले पूजा होती है , उसके बाद फिर सुबह में ३-४ के बिच में प्रसाद को ले जाकर रखतें है। और उसके बाद डूबते सूर्य को पूजते है।छठ पूजा हम बिहार वासियो के लिए खुशियों का सौगात लेकर आता है। हम सारे परिवार एक दूसरे को विश करते है।

Blog kaise banaye step by step in hindi..

 

One thought on “छठ पूजा हम क्यों और कैसे मनाते है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)